जोहान्सबर्ग : इस जगह को दुनिया की रेप राजधानी का खिताब मिला है।

यहां हर दूसरी औरत का उसकी जिंदगी में कभी न कभी रेप हुआ। 5 लाख महिलाओं का रेप यहां हर साल होता है। इसके अलावा हर 17 सेकण्ड में एक महिला का रेपा होना इस बात को साबित करने के लिए पर्याप्त हैं।

women-like-to-get-raped-here

सबसे अहम बात तो यह है कि 20 प्रतिशत पुरूष यह कहते हैं कि महिलाओं ने खुद ही उनसे अपना रेप करने के लिए कहा।

एक चौथाए पुरूषों ने यह माना है कि उन्होंने अपनी जिंदगी में कम से कम एक बार रेप किया। तीन चौथाए पुरूषों ने कहा कि उन्होंने 20 साल से कम उम्र की लड़कियों को अपना शिकार बनाया वहीं दसवें हिस्से ने 10 साल से कम उम्र की लड़कियों का रेप किया।

साउथ अफ्रिका में समलैंगिकता वैध है इसीलिए यहां के पुरूष खुले आम करेक्टिव रेप करने को जायज ठहराते हैं। यानि कि महिलाओं को समलैंगिक से विपरीत लैंगिक बनाना।

यहां के पुरूषों का कहना है कि इस से वे महिलाओं को असली औरत बनना सिखा रहे हैं ताकि वे दुबारा ऎसे घटिया काम न कर सके।

एक ऎसे ही घटनाक्रम में एक महिला अधिकार और समलैंगिकता के लिए लड़ने वाली और उसकी महिला दोस्त को एक बार कुछ पुरूषों ने घेर लिया और उसका बेरहमी से गैंग रेप व टार्चर किया। उन्हें उनके अंत:वस्त्रों से बांधा और फिर सिर में गोली मार दी।

दूसरी घटना में 16 साल की फुटबॉल खिलाड़ी का चार लड़कों ने उस समय रेप किया जब वह अपनी प्रेक्टिस कर मैदान से लौट रही थी। रेप के बाद उसको उन्होंने मरणासन्न अवस्था में ही छोड़ दिया। वह जेसे तैसे अपने घर पहुंची और रिपोर्ट दर्ज करवाई।

करेक्टिव रेप के हर हफ्ते यहां 10 से भी ज्यादा केस दर्ज किए जाते हैं और यह संख्या अभी और बढ़ने का अनुमान लगाया जा रहा है।

रेप करने के तरीके सुनें तो किसी का भी दिल दहल जाए। धारदार हथियार जैसे कि चाकू, पत्थर और लाठियां तक रेप के दौरान काम में ली जाती हैं। एक रेप पीडिता ने तो जो बताया वह सचमुच डरावना और निहायत ही वहशीयाना तरीका था ।

महिला ने बताया कि घर में काम आने वाली झाडू के पिछले वाला हिस्से को उसके शरीर के पिछले हिस्से में बेरहमी के साथ घुसा दिया गया और तब तक डाले रखा गया जब तक कि वह बेहोश न हो गई।

एक और दर्दनाक कहानी है पर्ल माली नामक एक महिला की। इसने जो बताया उसे सुनकर तो पैरों के नीचे की जमीन ही मानो खिसक गई।

लेस्बियन लड़की पर्ल जब 12 साल की बच्ची थी तब एक दिन उस की मां ने उसको घर के ही एक कमरे में जाने को कहा ।

जब वह वहां पहुंची तो क्या देखती है कि एक आदमी उसका बैड पर इंतजार कर रहा है। उस आदमी ने फिर पर्ल को मारा और उसका रेप किया और फिर यह सिलसिला 4 साल तक चला।

इसके बाद पर्ल के बच्चा हो गया तो फिर यह आदमी उसके साथ वही सब कुछ करने लगा। यहां तक कि उसके बच्चे को उससे छीन लिया गया ताकि कहीं वह गे न बन जाए।

एक ऎसी ही घटना हुई सिंफीवे थंडिका के साथ। जब वह सिर्फ 13 साल की थी और टॉम बॉय की तरह रहा करती थी।

एक दिन उसके ही परिवार के सौतेले भाई ने सोते समय उसको दबोच कर कर रेप कर डाला। वह उस उम्र में समझ ही नहीं पाई थी कि रेप क्या होता है।

ऎसे में उसने जब परिवार से इस घटना की शिकायत की तो उन्होंने इसे हल्के में लेकर कहा कि यह पारिवारिक मामला है इसलिए बाहर वालों से जिक्र करने की कोई जरूरत नहीं है।

loading...