दाम्पत्य जीवन में प्यार और खुशी को बरकरार रखने के लिए पति-पत्नी का आपस में रिश्ता, मित्रता प्यार और सहभागिता का होना चाहिए ऐसा होने से उनके आपस में रिश्ते में मिठास बने रहते हैं।

समुद्र शास्त्र के अनुसार संबंध तभी अच्छे बने रहते हैं जब कि शादी से पहले लड़का-लड़की शादी से पहले एक दूसरे के शुभ लक्षणों को जान लें। दाम्पत्य जीवन को सफल बनाने में लड़का-लड़की दोनों का योगदान होता है।

लेकिन समुद्रशास्त्र के अनुसार लड़कियों के कुछ ऐसे लक्षण होते हैं जो शादी के बाद किसी लड़कों का जीवन को तबाह कर देता है।

*सुबह देर तक सोने वाली या दिन के समय सोने वाली महिला अपने वैवाहिक जीवन में दरार और कलह का कारण खुद बनती हैं। ऐसी महिलाएं मायके में हों या ससुराल में केवल धन की बर्बादी ही करती हैं। जिस घर में महिलाएं दिन में सोती हैं वहां कभी भी लक्ष्मी टिक नहीं पाती है। ऐसे लक्षणों वाली लड़कियों से शादी करने पर पुरुष का जीवन तबाह हो जाता है।

*सोमवार को बाल धोने वाली महिला खुद अपने सुहाग को कष्ट देती हैं। जिससे पुरुष का जीवन कष्टमय हो जाता है।

*जिस लड़की की मांग सीधी होती है वह पति के लिए बहुत शुभ होती है। जो लड़की दो मांग या टेढ़ी मांग रखती है वह कुटिल स्वभाव की होती है, जो आपने हाथों अपना वैवाहिक जीवन बर्बाद लेती है। साथ ही जिसके साथ इनका रिश्ता बनता है उसका जीवन बीच मझधार में फंस जाता है। ऐसा समुद्र शास्त्र के लक्षणों में साफ निर्देश किया गया है।

*वैसी लड़कियां जो एडियां उठाकर चलती है इनका जीवन संघर्षों से भरा होता है। उनके चाल-चलन से मायके और ससुराल दोनों पक्ष बदनाम होता है।

loading...