पति पत्नी का रिश्ता विश्वास पर टिका होता है, लेकिन जब यह विश्वास खत्म हो जाता है तो फिर इस रिश्ते को बचाकर रखना काफी मुश्किल हो जाता है। ग्वालियर में एेसा ही एक मामला आया, जिसमें गुस्से में आए पति ने पत्नी को मार डाला, फिर खुद पुलिस को फोन करके कहा कि मैने अपनी पत्नी को मार डाला है। पुलिस ने आरोपी पति पर मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

जब पुलिस ने आरोपी पति से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसका नाम रमाशंकर व्यास अपनी पत्नी संगीता के संग ग्वालियर की पॉश हाउसिंग सोसायटी एमके सिटी में 6 महीने से रह रहे थे। उनकी छोटी बेटी निधि भी उनके साथ रहती थी, जबकि दो बड़ी बेटियां गांव में अपने दादा-दादी के पास रहती थी।

रविवार को संगीता ने करवा चौथ का व्रत रखा, लेकिन सोमवार रात जब वह खाना बना रही थी तो पति ने उसके चाल चलन पर शक जाहिर किया। इस पर गुस्से में आई संगीता ने पति पर गर्म चिमटे से हमला कर दिया। इसके बाद संगीता फ्लैट से बाहर जाने लगी तो रमाशंकर ने उसके पकड़ कर अंदर कर लिया और फ्लैट का डोर लॉक कर लिया।

मंगलवार सुबह रमाशंकर ने बेटी निधि को तैयार किया और ऑटो-रिक्शा में बैठा कर स्कूल के लिए रवाना कर दिया। संगीता जागी तो रात का झगड़ा फिर शुरू हो गया। संगीता ने बिफरते हुए कहा कि हां है उसका प्रेमी, और वह उसके पास जा रही है, उससे कह कर रमाशंकर को ठिकाने लगवा देगी।

इस पर रमाशंकर ने गुस्से में पत्नी को पकड़ कर नीचे गिरा दिया और उसका गला घोंट दिया। पत्नी के मरते ही रमाशंकर ने Dial-100 को खुद सारी जानकारी देकर बुला लिया। मौके पर पहुंची पुलिस व फोरेंसिक टीम ने प्रारंभिक छानबीन के बाद बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा और हत्या का मामला दर्ज कर पति रमाशंकर को गिरफ्तार कर लिया।

loading...