• पुरूष सबसे ज्‍यादा मुंह के और फेफड़े का कैंसर से प्रभावित हैं।
  • महिलाओं में गर्भाशय ग्रीवा और स्‍तन कैंसर की समस्‍या ज्‍यादा है।
  • कैंसर के निवारण के लिए वैज्ञानिक इलाज तलाश रहे हैं।

पूरी दुनिया कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ रही है। पुरूष सबसे ज्‍यादा मुंह के और फेफड़े का कैंसर जबकि महिलाओं में गर्भाशय ग्रीवा और स्‍तन कैंसर से मरने वालों की संख्‍या बहुत ज्‍यादा है। वहीं इसके निवारण के लिए वैज्ञानिक इलाज तलाश रहे हैं। जबकि तमाम लोग ऐसे भी हैं जो इस समस्‍या से निपटने के लिए आयुर्वेद में अवसर तलाश रहे हैं। आपको बता दें कि भारत में सदियों से आयुर्वेद पद्धति से इलाज किया जा रहा है। आयुर्वेद में गंभीर बीमारियों से लड़ने की क्षमता है। आज हम आपको 5 ऐसी औषधियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको कैंसर के खतरे से बचाएगी।

इसे भी पढ़ें : बवासीर के मस्से हटाने के लिए रामबाण हैं ये 5 घरेलू नुस्खे

aamla

अश्‍वगंधा

अवश्‍वगंधा शरीर से तनाव दूर करने में मदद करता है। इसमें कैंसर रोधी मूल्‍य पाए जाते हैं इसकी खोज वैज्ञानिकों ने करीब 40 वर्ष पूर्व ही कर दी थी। इस औषधि से वैज्ञानिकों ने एक क्रिस्‍टलीय स्‍टेरायडल यौगिक को अलग किया था। रिसर्च में पता चला था कि अश्‍वगंधा प्राप्‍त ये यौगिक कैंसर कोशिकाओं को मारने में मदद करते हैं।

इसे भी पढ़ें : पेट दर्द के लिए वरदान हैं ये 4 औषधियां, दर्द को तुरंत करती है छूमंतर

आंवला

आंवला में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होता है। जो कार्सिनोजेनिक कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं और कैंसर से बचाव करते हैं। आंवला विटामिन सी का बहुत अच्‍छा स्रोत है। एक आंवले में लगभग 3 संतरों के बराबर विटामिन सी होता है। आंवला खाने से लीवर को शक्ति मिलती है जिससे लीवर शरीर से टॉक्सिन्‍स को बाहर निकालता है।

 

लहसुन

कैंसर को एक लाइलाज बीमारी माना जाता है। लेकिन आयुर्वेद के अनुसार रोजाना थोड़ी मात्रा में लहसुन का सेवन करने से कैंसर होने की संभावना लगभग 80 प्रतिशत कम हो जाती है। कैंसर के प्रति शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करता है। लहसुन में मौजूद कैंसर विरोधी तत्व शरीर में कैंसर बढऩे से रोकते है। लहसुन में मौजूद अलिसिन नामक रसायन फेफड़ों के कैंसर से बचाव में मददगार है।

अदरक

कैंसर के लिए अदरक बहुत फायदेमंद है। यह कैंसर के मरीजों के लिए अचूक औषधि की तरह काम करता है। अदरक कोलेस्ट्राल का स्तर कम करता है। यह खून का थक्का जमने से रोकता है, इसमें एंटी फंगल और कैंसर के प्रति प्रतिरोधी होने के गुण भी पाए जाते हैं।

इसे भी पढ़ें :  PICS : एकता कपूर की ड्रेस ने फिर दिया धोखा, सबके सामने दिख गया सबकुछ

हल्‍दी

हल्दी का उपयोग विभिन्न रोगों के उपचार में प्राचीन काल से ही किया जाता रहा है। हल्दी को बहुत अच्छा रोगाणुनाशक माना जाता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि प्रतिदिन हल्दी का सेवन करने से कैंसर जैसे असाध्य रोगों को भी दूर भगाया जा सकता है। हल्दी में कैंसररोधी गुण होते हैं और यह शरीर को कैंसर से बचाती है। शोधकर्ताओं के अनुसार, हल्दी में पाया जाने वाला कुर्कुमिन नामक तत्‍व कैंसर को समाप्त करने में मदद करता है।

loading...